” कस्तूरी की तलाश “—समी 0 सूर्यनारायण गुप्त “सूर्य”

कस्तूरी की तलाश (विश्व का प्रथम रेंगा संग्रह) संपादक : प्रदीप कुमार दाश “दीपक” प्रकाशक : अयन प्रकाशन दिल्ली                                    प्रकाशन वर्ष – 2017 पृष्ठ – 149                                                                            मूल्य – ₹ 300 _______________________________________________________________                    गूढ़  अर्थ  ओढ़े  बेजोड़  रेंगा – संग्रह ”  Read More …

मधु कृति (हाइकु संग्रह) श्रीमती मधु सिंघी — समीक्षक : -प्रदीप कुमार दाश “दीपक”

मधु कृति (हाइकु संग्रह)               हाइकु कवयित्री – श्रीमती मधु सिंघी प्रकाशक : सृजन बिंब प्रकाशन                         प्रकाशन  वर्ष 2017 पृष्ठ – 88                                                                 मूल्य ₹150 ______________________________________________________ हाइकु जगत में मधु जी का एक खास पेशकश हाइकु काव्य “मधु – कृति”                                        Read More …

झांकता चाँद -एक प्रतिबिम्ब सुनहरे कल का (पुस्तक समीक्षा) सुशील कुमार शर्मा

झांकता चाँद -एक प्रतिबिम्ब सुनहरे कल का पुस्तक समीक्षा सुशील कुमार शर्मा हाइकु संग्रह की समीक्षा कठिन नहीं तो बहुत आसान भी नहीं है। प्रदीप कुमार दाश “दीपक” के संपादन में पिछले माह यह हाइकु संग्रह “झाँकता चाँद “प्रकाशित हुआ Read More …

समीक्षा -प्रकृति की गोद में–डा, सुरेन्द्र वर्मा

समीक्षा रकृति के संग एकांत मन डा, सुरेन्द्र वर्मा प्रदीप कुमार डास ‘दीपक’ एक युवा हाइकुकार हैं | वे अपना एकांत जब प्रकृति के साथ बिताते हैं तो उनकी रचनात्मक ऊर्जा हाइकु लिखने के लिए उन्हें मानों बाध्य करती है- Read More …

विश्वचि माझे घर—- प्राचार्य श्रीधर हेरवाडे, कोल्हापूर

पुस्तक परिचय   विश्वचि माझे घर म्हणजेच ब्रम्‍हविलासांचा प्रासादिक शब्‍दविलास   श्री. ब्रम्‍हविलास पाटील (जयसिंगपूर) यांनी, ज्‍योतिषशास्‍त्राचा अभ्‍यास चांगला केला आहे. याबरोबरच धर्मज्ञानाचेही सम्‍यग्ज्ञान त्‍यांना आहे. या दोन्ही शास्‍त्रासंबंधी त्‍यांनी आपल्‍या ‘विश्वचि माझे घर’’, या पुस्‍तकाविषयी सुयोग्‍य लेखन केले आहे. Read More …