कविता

महाकवि नीरज के महाप्रयाण पर- -गौरव शुक्ल मन्योरा Inbox x गौरव शुक्ल मन्योरा 10:56 AM…

वाह ! कैसे हो तुम यार पुतइये–प्रशान्त बेबाऱ

वाह ! कैसे हो तुम यार पुतइये करते हो कमाल पुतइये कैसेरंगोंसेमिलाजुलाके कोईरंगनयाबनालेतेहो कैसेभीहोंजख्मईंटोंके रंगोंसेसबछुपालेतेहो…

Facebook
Twitter
LinkedIn
INSTAGRAM