“तीर्थराज प्रयाग “—-Sukhmangal Singh

“तीर्थराज प्रयाग “ तीर्थराज प्रयाग में पावन त्रिवेणी तट पर आस्था का मेला सज गया है। प्रयाग- इलाहाबाद में गंगा यमुना और अदृश्य सरस्वती संगम पर अवस्थित एक तीर्थ स्थल है | गंगा यमुना और अदृश्य सरस्वती की धाराओं का  संगम है Read More …

नाजायज़ शोर की बंधुआगिरी—-अलकनंदा सिंह

सोमवार, 8 जनवरी 2018 नाजायज़ शोर की बंधुआगिरी Painting courtsey: Google images किसी भी धर्म का मर्म व्‍यक्‍ति की अंतध्‍वर्नि को जाग्रत करने में निहित है  ताकि धर्माचरण के बाद प्रवाहित होने वाली तरंगें व्‍यक्‍ति व समाज में  सकारात्‍मक ऊर्जा Read More …

प्रकृति का संरक्षण स्वयं के अस्तित्व का संरक्षण है —- सुशील शर्मा

प्रकृति का संरक्षण स्वयं के अस्तित्व का संरक्षण है सुशील शर्मा पृथ्वी के प्राकृतिक संसाधनों में हवा, पानी, मिट्टी, खनिज, ईंधन, पौधे और जानवर शामिल हैं। इन संसाधनों की देखभाल करना और इनका सीमित  उपयोग  करना ही प्रकृति का संरक्षण Read More …

धर्मनिरपेक्षता के विरुद्ध केन्द्रीय मंत्री हेगड़े का बयान कमजोर संविधान का प्रमाण!–डॉ. पुरुषोत्तम मीणा ‘निरंकुश’

धर्मनिरपेक्षता के विरुद्ध केन्द्रीय मंत्री हेगड़े का बयान कमजोर संविधान का प्रमाण! लेखक: डॉ. पुरुषोत्तम मीणा ‘निरंकुश’ बेंगलुरु में केंद्रीय सरकार में कौशल विकास राज्यमंत्री अनंत कुमार हेगड़े ने भारत के संविधान की धर्मनिरपेक्षता के मुद्दे बेहद घटिया और असंवैधानिक Read More …

”आचार्य महावीर प्रसाद द्विवेदी जी हिंदी के उन्नायक महापुरुष “–Sukhmangal Singh

“आचार्य महावीर प्रसाद द्विवेदी जी हिंदी के उन्नायक महापुरुष “ Inbox Wed, Dec 27, 2017 at 10:51 AM आचार्य महावीर प्रसाद द्वेदी जी ने अपने युग को साहसिक रूप में साहित्यिक और सांस्कृतिक चेतना को नई दिशा और दशा प्रदान Read More …

वही व्यवहार चिकित्सक से करो , जो चिकित्सक से चाहते हो –डा प्रवीण कुमार श्रीवास्तव

वही व्यवहार चिकित्सक से करो , जो चिकित्सक से चाहते हो । प्रस्तुत लेख मे समाज के प्रतिष्ठित वर्ग की समस्यायों की जानकारी दी जा रही है , जिन्हें समाज चिकित्सक वर्ग के नाम से जानता है। चिकित्सक वर्ग समाज Read More …

पाश्चात्य त्यौहार बनाम भारतीय त्यौहार—- सुशील शर्मा

पाश्चात्य त्यौहार बनाम भारतीय त्यौहार सुशील शर्मा संस्कृति न केवल मनुष्य की आत्मा वाहक है बल्कि एक  राष्ट्र का मूल भी है। विभिन्न देशों में अलग-अलग संस्कृतियां हैं चूंकि राष्ट्रीय त्यौहार किसी देश की सबसे अच्छी सांस्कृतिक उपलब्धियों और सबसे Read More …

विरुष्का —- डा. सुरेन्द्र वर्मा

  विरुष्का डा. सुरेन्द्र वर्मा   आखिर हो ही गई | सारी दुनिया परेशान थी | विराट कोहली और अनुष्का शर्मा की शादी कब होगी |अरसा बीत गया था डेटिंग करते करते | ऊंट किसी करबट बैठ ही नहीं रहा Read More …