” आने वाला वसंत “—Sukhmangal Singh


x
Sukhmangal Singh 1:48 PM (4 hours ago)

” आने वाला वसंत “
————————
आला मतवाला आने वाला वसंत |
कामदेव की पूजा करने वाला वसंत |
पीताम्बर ओढ़े सरसों का खेत, वसंत |
नरगिस की प्यारी न्यारी चुनरी वसंत ||

चपल ध्वनि औ कल – कल तरंग |
सर्दी – गर्मी दोनों चलते एक संग |
खेतों में किसलय लिए पचरंगा रंग |
चेहरों को निखारता आया वसंत ||

पात गिरे धरा पे पेड़ कोपलों के संग |
नव फूलों की बगिया में महक उठा मन |
तितलियाँ मडराती हैं कलियों के संग |
रवि उत्तरायण हो चला आया वसंत ||

काया की सिकुडन मिटाता है वसंत |
तुलसी से सुहाग को – मंगाये वसंत |
औ आलिंगन दे उभार देने वाला मन |
सरस्वती क पूजन कराने आया वसंत ||

रंग भरने का रस्म निभाता यह वसंत |
तेरे मेरे मिलन का मनभावन वसंत |
आनंद और उमंग में रहे संग – संग 
आला मतवाला आने वाला वसंत ||

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Facebook
Twitter
LinkedIn
INSTAGRAM