घटाने व जोड़ने का तज़ुर्बा जो पा गया---अमरेश सिंह भदौरिया

Post Reply
User avatar
admin
Site Admin
Posts: 21476
Joined: Wed Nov 16, 2011 9:23 am
Contact:

घटाने व जोड़ने का तज़ुर्बा जो पा गया---अमरेश सिंह भदौरिया

Post by admin » Tue Sep 18, 2018 3:51 pm

Amresh Singh

Mon, Sep 17, 9:30 PM (18 hours ago)

to me

घटाने व जोड़ने का तज़ुर्बा जो पा गया।
समझो सुर्खियों में उसे रहना आ गया।
कहने को तमाम उम्र वो नेकी के घर रहा,
फिर बदचलन हवाओं का साथ कैसे भा गया।

अमरेश सिंह भदौरिया
Image
Mail your articles to swargvibha@gmail.com or swargvibha@ymail.com

Post Reply