Page 1 of 1

मुझको बहुत याद तुम आये----गौरव शुक्ल मन्योरा

Posted: Mon Oct 22, 2018 2:50 pm
by admin
गौरव शुक्ल मन्योरा

Image
मुझको बहुत याद तुम आये।।
(1)
दिन भर के कामों से थककर,
खा पी, मुँह चादर में ढककर,
जब सारा जग सोया छककर ;

पूरी रात जाग तब मैंने, तुमको सौंपे वचन निभाये।
मुझको बहुत याद तुम आये।।
(2)
जब हर दर पर ठोकर खाई,
सबने मेरी हँसी उड़ाई,
जब यह दुनिया रास न आई;

जब जब सगा बताने वाले, पल भर में हो गये पराये।
मुझको बहुत याद तुम आये।।
(3)

जब अपनों का दामन छूटा,
जब-जब दिल शीशे सा टूटा,
जब किस्मत का भाँडा फूटा;

जब जब मेरे अरमानों पर, इस दुनिया ने वज्र चलाये।
मुझको बहुत याद तुम आये।।
-----------------
-गौरव शुक्ल