हाइकु : हाइबन--प्रदीप कुमार दाश "दीपक"

Post Reply
User avatar
admin
Site Admin
Posts: 18298
Joined: Wed Nov 16, 2011 9:23 am
Contact:

हाइकु : हाइबन--प्रदीप कुमार दाश "दीपक"

Post by admin » Fri Mar 17, 2017 6:04 am

प्रदीप कुमार दाश "दीपक"
----------------------------------
हाइकु : हाइबन

बड़े भैया के साथ दोनों तीस वर्ष लंबे अंतराल के बाद घुमने निकले घने विहड़ वनों की राहों में कई बार भटकन के उपरांत आखिर प्राकृतिक सौंदर्य से परिपूर्ण गोमर्डा अभयारण्य के अद्भुत सुरम्य स्थल माडमसिल्ली पहुंच ही गये थे। पहुंचते ही सारी थकानें दूर हो गयीं । गहरे खड्डे में उतरते ही बचपन की सारी पुरानी यादें ताजी हो गयीं और खुशियों का ठिकाना न रहा । माता जी की उंगलियों को पकड़ कर चलता एक सात साल का बालक मैं और बाबूजी की उंगलियों को पकड़ कर चल रहा बारह साल का एक नटखट बालक बड़े भैया की माडमसिल्ली से जुड़ी सारी स्मृतियां मनः पटल पर आज अनायास दृश्यवत होने लगीं । वही तरू, चट्टानें, निर्झर, वही छोटा सा जलाशय मन को आज फिर अभिभूत कर गये थे...... स्वर्गीय माँ बाबुजी की कमी अचानक खलने लगी.... मुख की मुद्राएं सहसा गंभीर हो चलीं... भैया जी से आंसुओं को छिपाने के प्रयास में सफल हो गया......
अनायास रचना लेखनी से निःसृत हुई...............
माडमसिल्ली
बचपन के साथ
गपिया चली ।
प्रदीप कुमार दाश "दीपक"

Post Reply